NCERT Solutions for Class 7 Hindi Chapter 1

Class 7 Hindi Chapter 1

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Chapter 1 ‘हम पंछी उन्मुक्त गगन के’कक्षा 7 हिंदी के लिए सबसे व्यापक और सही एनसीईआरटी समाधान, जिसमें पाठ्यपुस्तक वसंत में सभी प्रश्नों के उत्तर शामिल हैं, एनसीईआरटी पुस्तकें पीडीएफ समाधान में प्रदान किए गए हैं। आपको सबसे मानक समाधान देने के लिए ये समाधान हमारे विषय शिक्षक द्वारा सावधानीपूर्वक तैयार किए गए हैं।

यह एक प्रतिस्पर्धी उम्र है। इसलिए छात्रों को खुद को बेहतरीन तरीके से तैयार करने की जरूरत है। छात्रों के लिए, चुनौती “परीक्षा” है। इसमें आपकी मदद करने के लिए, हम आपको कक्षा 7 के लिए सबसे विश्वसनीय एनसीईआरटी समाधान प्रदान कर रहे हैं ताकि आप अपनी परीक्षा में सफल हो सकें।Class 7 Hindi Chapter 1 Soluion ‘हम पंछी उन्मुक्त गगन के|

अध्ययन और अभ्यास करना बहुत जरूरी है। शिक्षार्थियों को इस विषय का अध्ययन करने में आनंद आता है। यहां, हमने आपको कक्षा 7 के लिए अच्छी तरह से संरचित एनसीईआरटी समाधान प्रदान किए हैं। ये समाधान आपको यह समझने में मदद करेंगे कि आपको अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए उन्हें कैसे तैयार करना चाहिए।

हम पंछी उन्मुक्त गगन के

प्रश्न 1. सारी सुख-सुविधाएं पाकर पक्षी पिंजरे में बंद क्यों नहीं रहना चाहते?

उत्तय-

पक्षी हर तरह की सुख-सुविधाओं के बावजूद पिंजरे में बंद नहीं रहना चाहते क्योंकि उन्हें वहां उड़ने की आजादी नहीं है। उन्हें खुले आसमान में ऊंची उड़ान भरना, नदी के झरनों का बहता पानी पीना, कड़वे निब खाने, ऊंचे पेड़ों पर झूलना, कूदना, फावड़ा, अपनी पसंद के अनुसार अलग-अलग मौसमों में फलों के दाने चुनना और क्षितिज से मिलना पसंद है। यही कारण है कि पक्षी तमाम सुख-सुविधाओं के बावजूद पिंजरे में बंद नहीं रहना चाहते  है।

 

प्रश्न 2. वे कौन कौन सी इच्छाएँ हैं जिन्हें पक्षी बिना उन्मुक्त हुए पूरा करना चाहते हैं?

उत्तय-

पंछी स्थिर रहकर अपनी मनोकामना पूर्ण करना चाहते हैं

(क) वे खुले आसमान में उड़ना चाहते हैं।

(ख) वे अपनी गति से उड़ना चाहते हैं।

(ग) नदी के झरनों का बहता पानी पीना चाहते हैं।

(घ) नीम के पेड़ का कड़वा अमृत खाना चाहते हैं।

(ङ) वे पूरे रास्ते पेड़ को झुलाना चाहते हैं।

वे आसमान में ऊँची उड़ान भरकर अनार के दानों रूपी तारों को चुगना चाहते हैं। क्षितिज मिलन करना चाहते हैं।

Read Also https://ncertbookspdf.in/fire-friend-and-foe/

प्रश्न 3. अर्थ स्पष्ट करें Class 7 Hindi Chapter 1

या तो क्षितिज मिलन बन जाएगा या तनती साँसों की डोरी।

उत्तर-

इस पंक्ति में कवि पक्षियों के माध्यम से कहना चाहता है कि यदि मैं मुक्त होता तो उस अनंत क्षितिज का सामना करता। मैं इन नन्हे पंखों से उड़ जाता, या तो क्षितिज से मिल जाता या मर जाता।

 

कविता से आगे

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1

प्रश्न 1. बहुत से लोग पक्षी पालते हैं।

(क) क्या पक्षियों को पालना उचित है? अपने विचार लिखें।

(ख) क्या आपने या आपकी जानकारी में किसी ने कभी पक्षी पाला है? लिखें कि उसकी देखभाल कैसे की जाएगी।

उत्तर-

(क) पक्षियों को हमारे दृष्टिकोण से रखना उचित नहीं है, यह उनकी स्वतंत्रता को सीमित करता है। उनकी इच्छाओं, सपनों और इच्छाओं पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसलिए पक्षियों को पालना अच्छा नहीं है। उन्हें प्रकृति में मुक्त घूमने की अनुमति दी जानी चाहिए। उन्हें वहीं खुश मिलती है।

(ख) हमारे एक पड़ोसी ने तोते को पाला था। पड़ोसी ने उसे मेले से खरीद लिया। उनके परिवार के सभी सदस्यों ने उनकी ईमानदारी से देखभाल की। वह रोज अपने पिंजरे की सफाई करता था। एक कटोरी में पीने के लिए पानी और खाने के लिए चना दिया गया।

इसके अलावा तोतों को खाने के लिए मौसमी फल और मिर्च भी दी जाती थी। मेरा पड़ोसी तोते से घंटों बातें करता और उसे पार्क में घुमाने ले जाता। तोते ने घर के सभी सदस्यों के नाम रट लिए थे, लेकिन तोता खाना भारी मन से खाता था। जब मैं पड़ोसी के घर पिंजरे के पास जाता था तो वह हमारी ओर आशा भरी दृष्टि से देखता था।

 

प्रश्न 2. पक्षियों को पिंजरे में रखने से न केवल उनकी स्वतंत्रता का हनन होता है बल्कि पर्यावरण पर भी प्रभाव पड़ता है। इस विषय पर अपने विचार दस पंक्तियों में लिखें।

उत्तर

पक्षियों को पिंजरों में रखा जाता है और उनकी स्वतंत्रता का हनन होता है क्योंकि उनका स्वभाव ‘उड़ना’ होता है। उन्हें एक पिंजरे में रखकर हम उन्हें नियंत्रित करते हैं। इससे उनकी स्वतंत्रता छिन जाती है, साथ ही पर्यावरण भी प्रभावित होता है क्योंकि पक्षी भी पर्यावरण को संतुलित करने में मदद करते हैं।

पक्षी खाद्य श्रृंखला को नियंत्रित करते हैं। जैसे टिड्डे घास खाते हैं, पक्षी टिड्डे खाते हैं और यदि पक्षी नहीं हैं तो अधिक टिड्डे होंगे जो फसलों को नष्ट कर देंगे। टिड्डियां नहीं होंगी तो घास इतनी बढ़ जाएगी कि इंसान परेशान हो जाएगा।

अनुमान लगाओ और कल्पना करो

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1

प्रश्न 1.

क्या आपको लगता है कि वर्तमान मानव जीवन शैली और शहरीकरण से संबंधित योजनाएं पक्षियों के लिए घातक हैं? पक्षियों से रहित वातावरण में अनेक समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। इन समस्याओं से बचने के लिए हमें क्या करना चाहिए? विषय पर वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन करें।

उत्तर-

यह कहना गलत नहीं है कि वर्तमान मानव जीवन शैली और शहरीकरण की योजनाएँ पक्षियों के लिए घातक हैं क्योंकि शहरों में औद्योगीकरण के कारण जहरीली गैसें और प्रदूषित पानी पक्षियों के लिए हानिकारक हैं।

दूसरी ओर, अधिक से अधिक भवनों के निर्माण के कारण, बड़े भवन बनाने के लिए जंगलों और हरे क्षेत्रों को काट दिया जाता है, जिससे पक्षियों का आश्रय समाप्त हो जाता है। साथ ही उन्हें पेड़ों से प्राप्त खाद्य पदार्थ, फल, फूल आदि भी नहीं मिल पाते हैं। ऐसा होने पर उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

पक्षियों से रहित वातावरण में खाद्य श्रृंखला प्रभावित होगी। पर्यावरण संतुलित नहीं रहेगा। इसके लिए हमें ज्यादा से ज्यादा पेड़-पौधे लगाने चाहिए और बगीचे बनाने चाहिए। फैक्ट्रियों को भी शहरों से दूर रखा जाना चाहिए और धुएं और प्रदूषित पानी की उचित व्यवस्था की जानी चाहिए। (नोट – इन विचारों पर आधारित वाद-विवाद)।

 

प्रश्न 2.

यदि किसी पक्षी ने आपके घर के किसी स्थान पर अपना निवास स्थान बना लिया हो और किसी कारणवश आपको अपना घर बदलना पड़े तो लिखिए कि आप उस पक्षी के लिए किस प्रकार की व्यवस्था को आवश्यक समझेंगे।

उत्तर-

अगर किसी चिड़िया ने हमारे घर में अपना घोंसला बना लिया है और किसी कारण से हमें घर बदलना पड़े, तो हम कोशिश करेंगे कि जब तक घोंसले में रखे अंडों से बच्चे न निकल जाएँ और चिड़िया उन्हें उड़ना न सिखाए, तब तक हम घोंसलों को परेशान न करें। यदि अभी भी घर छोड़ना अनिवार्य है, तो आप उस घर में आने वाले नए परिवार से मिलेंगे और अनुरोध करेंगे कि वे घोंसला को वही रहने दें और उन्हें परेशान न करें और उनकी देखभाल करें।

 

भाषा की बात

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1

प्रश्न 1.

स्वर्ण-श्रृंखला और लाल किरण-सी में रेखांकित शब्द गुणवाचक विशेषण हैं। कविता पढ़िए और ऐसे तीन और उदाहरण लिखिए।

उत्तर-

(क) कनक-तिलिया,

(ख) कटुक-निबोरी,

(ग) तारक-अनार

प्रश्न 2.

भूखे प्यासे में द्वंद्व समास है। इन दोनों शब्दों के बीच के चिन्ह को संयुक्त चिन्ह (-) कहते हैं। यह चिन्ह ‘और’ को इंगित करता है, जैसे भूखा-प्यासा = भूखा प्यासा।

ऐसे दस और उदाहरण ढूँढ़िए और लिखिए।

उत्तर-

दाल-रोटी – दाल और रोटी

अनाज-पानी – अनाज और पानी

सुबह-शाम – सुबह और शाम

पाप-पुण्य – पाप और पुण्य

राम-लक्ष्मण – राम और लक्ष्मण

सुख-दुख – सुख और दुख

तन-मन – तन और मन

दिन-रात – दिन और रात

दूध-दही – दूध और दही

कच्चा-पक्का – कच्चा और पक्का

Read Also https://ncertbookspdf.in/ncert-solutions-of-class-7-english/

Class 7 hindi chapter 1 extra questions

बहुविकल्पीय प्रश्नोत्तर

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1

(क) ‘हम पंछी उन्मुक्त गगन के’ पाठ के लेखक हैं|

(i) भवानी प्रसाद मिश्रा

(ii) सर्वेश्वर दयाल सक्सेना

(iii) शिवमंगल सिंह सुमन

(iv) महादेवी वर्मा

 

(ख) पक्षी कहाँ पानी पीना पसंद करते हैं?

(i) नल का पानी

(ii) वर्षा जल

(iii) नदी के फव्वारे

(iv) पिंजरे में पानी का कटोरा bowl

 

(ग) बंधन किसका है?

(i) सोना

(ii) श्रृंखला

(iii) सोने की चेन

(iv) मनुष्य का

 

(घ) लंबी उड़ान में क्या संभावनाएं थीं?

(i) क्षितिज की सीमा पाई जाती है

(ii) सांस की सांस

(iii) ये दोनों बातें हो सकती थीं

(iv) कुछ नहीं होता

 

(ङ) पक्षी क्यों परेशान करते हैं?

(i) क्योंकि वे बंधन में हैं।

(ii) क्योंकि वे आकाश की ऊंचाई को छूने में असमर्थ हैं।

(iii) वे अनार के दानों रूपी तारों को चुगने में असमर्थ हैं।

(iv) उपरोक्त सभी

उत्तर-

(क) (iii)

(ख) (iii)

(ग) (iii)

(घ) (iii)

(ङ) (iv)

 

अति लघु उत्तरीय प्रश्न

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1

(क) इस कविता और कवि का नाम लिखें।

उत्तर-

कविता का नाम – “हम पंछी उन्मुक्त गगन के”

कवि का नाम- शिवमंगल सिंह ‘सुमन’

 

(ख) पक्षी क्या जीवन जीना चाहते हैं?

उत्तर-

पक्षी स्वतंत्र जीवन जीना चाहते हैं।

 

(ग) ऊंची उड़ान के लिए पक्षी क्या त्याग करते हैं?

उत्तर-

पक्षी ऊँची उड़ान के लिए अपना घोंसला, डाली का सहारा आदि सब कुछ के लिए अपने घोंसलों की बलि देने को तैयार रहते हैं। उनका मानना ​​है। कि भगवान ने उन्हें सुंदर पंख दिए हैं ताकि उनकी उड़ान में बाधा न आए।

 

(घ) पक्षी अपनी किस इच्छाओं को पूरा करने के लिए पिंजरे से मुक्त होने के लिए उत्सुक हैं।

उत्तर-

पक्षी पिंजड़े से निकलकर नदी-झरनों के बहते जल को पीने के लिए व्याकुल हैं, तेज गति से उरने के लिए व्याकुल हैं, नीले आकाश की सीमा तक उरने के लिए व्याकुल हैं, पेड़ के तने पर झूलते के लिए व्याकुल हैं, कड़वी निबौरियाँ खाने और अनार रूपी दाने चुगने के लिए पिंजरे के बाहर निकलने के लिए व्याकुल हैं।

Class 7 hindi chapter 1 extra questions Answers

लघु उत्तरीय प्रश्न

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1

(क) पिंजरे में पक्षियों के लिए क्या समस्या है?

उत्तर-

पिंजरे में बंद पक्षी खुले आसमान में नहीं उड़ सकते, नदी के झरनों का पानी नहीं पी सकते, कड़वे निबौरियाँ नहीं खा सकते, पोखर नहीं बना सकते, पंख नहीं फैला सकते, अनार के बीज जैसे तारे नहीं खा सकते। साथ ही, पिंजरे में बंद पक्षियों को वह वातावरण नहीं मिलता जिसमें वे रहने के आदी होते हैं।

(ख) पक्षियों के सपने और आकांक्षाएं क्या हैं?

उत्तर-

पक्षियों का सपना होता है कि वे पेड़ की चोटी पर बैठकर झूले में झूलें, वे नीले आकाश में बहुत दूर उड़कर आकाश की सीमा तक पहुंचना चाहते हैं। इस प्रयास में, क्षितिज के साथ प्रतिस्पर्धा करें, उसका अंत खोजें या अपने जीवन का बलिदान दें।

 

(ग) पक्षी मनुष्य से क्या चाहते हैं?

उत्तर-

पक्षी मनुष्यों से चाहते हैं कि उसे स्वतंत्र होकर उड़ान भरने दें। वह इसके बदले अपना घोंसला और टहनी का अपना आश्रय भी देने को तैयार हैं। वे हम लोगों से यह प्रार्थना करते हैं कि जब भगवान ने उन्हें उड़ने के लिए पंख दिए हैं, तो मनुष्य उनकी उड़ान को बाधित न करें और उन्हें स्वतंत्र रूप से उड़ने दें।

 

(घ) यह कविता हमें किस बात के लिए प्रेरित करती है?

उत्तर-

यह कविता हमें प्रेरणा देती है कि बंधन में हमें दी गई सभी सुविधाएं व्यर्थ हैं। स्वतंत्र जीवन में हम अपनी इच्छानुसार सब कुछ कर सकते हैं, जबकि अधीनता में हमें दूसरों की इच्छा का पालन करना होता है।

 

दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1

(क) पक्षी को मैदा से भरी सोने की कटोरी से कड़वी निबौरी क्यों अच्छी लगती है?

उत्तर-

परतंत्र जीवन हमेशा दर्दनाक होता है। ऐसे समय में मन की स्वतंत्रता समाप्त हो जाती है। स्वतंत्र जीवन में कितनी भी कठिनाइयाँ क्यों न हों, यह गुलामी के जीवन से बेहतर है। इसलिए पक्षी मैदे से भरे सोने के कटोरे से ज्यादा नीम के कड़वे फल खाना पसंद करते हैं।

 

(ख) इस कविता के माध्यम से कवि हमें क्या संदेश देना चाहता है?

उत्तर-

कवि ने इस कविता के माध्यम से यह बताना चाहा है कि आश्रित स्वप्नों में सुख नहीं होता। यानी आजादी सबसे अच्छी है। स्वतंत्र रहकर ही हमारे सपने और आकांक्षाएं पूरी हो सकती हैं।

अधीनता में, सभी इच्छाएं समाप्त हो जाती हैं। आश्रित होने के कारण हमें अपनी मूलभूत आवश्यकताओं के लिए भी दूसरों पर निर्भर रहना पड़ता है। इसलिए कवि ने इस कविता के माध्यम से स्वतंत्रता के महत्व को दिखाया है। इसलिए हमें पक्षियों को बंदी बनाकर नहीं रखना चाहिए। उन्हें मुक्त किया जाना चाहिए और आकाश में उड़ने की अनुमति दी जानी चाहिए।

मूल्य प्रश्न

हम पंछी उन्मुक्त गगन के Class 7 Hindi Chapter 1 

(क) स्वतंत्रता का महत्व लिखें?

उत्तर-

स्वतंत्रता सर्वोपरि है। स्वतंत्र व्यक्ति अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकता है, अपनी इच्छानुसार खा-पी सकता है, कहीं घूम सकते हैं और अपने विचार व्यक्त कर सकते हैं। गुलामी का जीवन दुखदायी होता है।

अंग्रेजों ने हमें दो सौ साल तक गुलाम बनाए रखा, जिसमें हमें बहुत यातनाएं झेलनी पड़ीं। काफी संघर्ष के बाद हमें आजादी मिली है। इसलिए स्वतंत्रता को बनाए रखना हम सभी का दायित्व है। इसी तरह की स्वतंत्रता पक्षियों पर भी लागू होती है।

5 thoughts on “NCERT Solutions for Class 7 Hindi Chapter 1”

Leave a Comment

error: Content is protected !!